लघु उद्योग के लिए लोन कैसे लें? 

Laghu Udyog Loan

भारत देश में बढ़ती हुई बेरोजगारी को देखते हुए बहुत से व्यक्ति के मन में अपना खुद का एक नया बिजनेस शुरू करने की इच्छा होती है। पर बहुत से लोगों के पास बिजनेस स्टार्ट करने के लिए ऐसा नहीं होता है जिससे वह अपना बिजनेस स्टार्ट नहीं कर पाते हैं पर अब लघु उद्योग लोन की मदद से वह सभी लोन लेकर अपना खुद का बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं।

लघु उद्योग के लिए लोन आप बैंक तथा जिला उद्योग केंद्र से भी ले सकते हैं-

बैंक द्वारा लघु उद्योग के लिए लोन

  • बैंक से लोन लेने के लिए किसी भी बैंक में हमारा खाता खुला हुआ होना चाहिए।
  • बैंक हमारा व्यक्तिगत व्यवहार भी देखता है इसलिए हमारा अपने समाज के प्रति अच्छा व्यवहार होना चाहिए।
  • हमें एक ऐसा बिजनेस स्टार्ट करना होगा जिससे कि हमारे साथ साथ और भी लोगों को फायदा हो।
  • बैंक हमसे हमारे उद्योग की शुरुआत करने का एक रीजन मांगता है इसलिए हमारे पास उस उद्योग के लिए महत्वपूर्ण रीजन होना चाहिए।
  • सरकार द्वारा बहुत सारी योजनाएं चलाई गई है, जैसे
  • इत्यादि सभी योजना सरकार द्वारा चलाई गई हैं। जिसमें से हमें किसी एक योजना का ही चयन करना होगा जिसके अनुसार हमें लोन लेना होगा।
  • हमें जी सूचना के तहत कम ब्याज दर पर लोन मिलेगा तथा जी सूचना के तहत हमें आगे भविष्य में फायदा होगा उसी योजना हमें लोन लेना चाहिए।
  • हम किसी बैंक से लोन ले उस बैंक के लोन देने की पूरी प्रक्रिया को अच्छे से समझ लें।
  • हमें उस बैंक द्वारा जो लोन लेने का फॉर्म मिलेगा उसे पूरा भर कर और उसके साथ जो जो उसमें दस्तावेज मांगे जाएंगे उसके साथ जमा करना होगा।
  • हमें अपने बिजनेस के फायदे और मुनाफे दोनों के बारे में बैंकों पूरी जानकारी देनी होगी इससे बैंक यह सुनिश्चित कर लेता है कि उनके द्वारा दिया गया लोन का पैसा उनको वापस मिल पाएगा या नहीं।
  • हमें अपने पहचान पत्र, वोटर आईडी, आधार कार्ड, पैन कार्ड या पासपोर्ट इन सभी में से किसी एक को बैंक को देना जरूरी होता है।
  • हम SC/ST/OBC/General किस जाति में आते हैं उसका भी प्रमाण देना होता है।
  • हमें अपने पिछले 6 महीने की बैंक खाते की पूरी स्टेटमेंट जमा करनी होती है।
  • बैंक आप से लोन लेते समय आपके डॉक्यूमेंट तथा आपके पिछले 2 से 3 साल तक का पूरा बैंक बैलेंस शीट जैसे कि आपका इनकम टैक्स, सेल टैक्स, तथा बिजली का बिल आदि सहित जुड़े हुए सभी कागजात भी मांगता है।

अगर आप हस्तशिल्प से सम्बन्धी कोई काम करने की सोच रहे हैं तो आप यहाँ से जान सकते हैं

महिला उद्यम निधि

जिला उद्योग केंद्र द्वारा लघु उद्योग के लिए लोन

  • जिला उद्योग केंद्र से लोन लेने के लिए जरूरी दस्तावेज में आपका आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो तथा आप का स्थाई प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • जिला उद्योग केंद्र द्वारा लोन लेने के लिए आपकी उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए तथा आप की कक्षा आठवीं तक की पढ़ाई उत्तरीण होनी चाहिए।
  • नया व्यापार क्षेत्र के लिए ही आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं अगर आप किसी और क्षेत्र में किसी योजना का लाभ उठा रहे हैं तो आप इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।
  • अगर आप बीपीएल कार्ड धारक है तब भी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

महिला लघु उद्योग लोन

भारत सरकार ने महिलाओं को आत्मनिर्भर क्यों उनका आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए महिला उद्यम निधि स्कीम की शुरुआत की है।

महिला उद्यम निधि क्या है

महिला उद्यम निधि एक ऐसा स्कीम है जो महिला उद्यमियों को सुलग ऋण उपलब्ध कराने के लक्ष्य में लघु उद्योग विकास बैंक द्वारा शुरू की गई है। जैसा कि नाम से यह स्पष्ट हो जा रहा है यह स्कीम केवल महिलाओं के लिए ही लागू की गई है। इस स्कीम के अंतर्गत वह महिलाएं जो अपना खुद का एक उद्योग स्टार्ट करना चाहती थी वह महिलाएं इस स्क्रीन की मदद से अपने उद्योग को स्टार्ट आसानी से कर सकती है।

महिला उद्योग निधि स्कीम के अंतर्गत लोन कैसे लें?

  • महिला उद्योग निधि स्कीम के अंतर्गत मार्जिन मनी को मिलाकर इसकी लागत अधिक से अधिक 1000000 रुपए तक ही तय की गई हैं।
  • सुलभ ऋण पूरी प्रोजेक्ट कॉस्ट का केवल पच्चीस परसेंट दिया जाएगा जो अधिक से अधिक ढाई लाख रुपये तक होगी और उद्यमी को पूरी प्रोजेक्ट कास्ट का 10 परसेंट अपनी जेब से लगाना पड़ेगा।
  • सिक्योरिटी के तौर पर काल्पनिक औजार उपकरण मशीनों का रखा जाएगा हालांकि लोन लेने वक्त थर्ड पार्टी गारंटी मान्य होगी।
  • सुलभ ऋण पर किसी प्रकार की कोई जमानत सिक्योरिटी के तौर पर बैंक द्वारा नहीं ली जाएगी।
  • सुलभ ऋण पर ब्याज की दर के तौर पर केवल सालाना एक परसेंट सर्विस चार्ज लोन पर देना होगा।
  • शेष अमाउंट अर्थात टर्म लोन पर ब्याज की दर समय-समय पर एस आई डी बी आई द्वारा निर्धारित की गई दर के हिसाब से देना होगा।
  • महिलाओं द्वारा चलाए गए आर्थिक रूप से कमजोर लघु उद्योग एवं छोटी इकाई चाहे वह निर्माण क्षेत्र से हो या सेवा क्षेत्र से इस स्कीम के तहत को आसानी से लोन ले सकते हैं।
  • यदि कोई महिला किसी लघु उद्योग को बड़े अच्छे से चला रही है और उसने इस स्कीम के तहत लोन लिया था और अब तक उसने इस स्कीम के तहत लिया लोन चुका दिया है तो ऐसी स्थिति में वह दुबारा से लोन के लिए अप्लाई कर सकती है।
  • इस महिला उद्यम निधि स्कीम के अंतर्गत लोन चुकता करने की अवधि 10 वर्ष निर्धारित की गई है।

पूरी लेख के द्वारा आप लघु उद्योग के लिए लोन लेने के लिए आसानी से अप्लाई कर सकते हैं। तथा महिलाओं को भी लोन लेने में इसलिए के द्वारा आसानी होगी। यदि आप इसके अलावा और भी किसी चीज के लिए लोन लेने के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमसे हमारे कमेंट बॉक्स में आकर पूछ सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *